अपनी योग्यता के अनुसार आज के प्रतियोगी जीवन सही नौकरी/ व्यवसाय का चुनाव करना बहुत जरुरी है, अनेक बार हम जीवन मे अन्य व्यक्तिओ की सलाह से गलत चुनाव कर लेता है जो भविष्य तबाह कर देता है। आज हम हस्तरेखा के माध्यम से रोजगार चुनाव के बारे में जानकारी देते है. क्योकि हाथों के पर्वत क्षेत्र की बनावट से आप यह जान सकते हैं कि ईश्वर आपको किन क्षेत्रों में सफलता प्रदान करेगा।

सर्वप्रथम यह देखे, कि हमारा भाग्य किस ग्रह द्वारा संचालित है यानी हाथ में कौन सा पर्वत क्षेत्र ज्यादा प्रभावी है। उसके स्वामी द्वारा ही जीवन ज्यादा प्रभावित होता है। जैसे…

जिनकी हथेली में सूर्य पर्वत (सूर्य पर्वत अनामिका उंगली के नीचे होता है।) उभरा हुआ होता है उन्हे इलेक्ट्रॉनिक्स, विज्ञापन, पेंटिंग, डेकोरेशन, कला, साहित्य, प्रशासन संबंधी, सरकारी नौकरी एवं सरकारी क्षेत्र से जुड़े काम मे कामयाबी मिलती है।

जिनकी हथेली में चन्द्र पर्वत (चन्द्र पर्वत का स्थान हथेली में अंगूठे के दूसरी होता है) उभरा हुआ होता है उन्हे कला, काव्य, जलीय व्यवसाय, तरल पदार्थ, संगीत, लेखन, पत्रकारिता, रंग मंच, साहित्य एवं टूर एण्ड ट्रैवल्स से सम्बंधित कार्य मे कामयाबी मिलती है।

मंगल पर्वत दो होते है। अंगूठे के नीचे वाला भाग निम्न मंगल और दूसरा स्थान उच्च मंगल कहलाता है। जिनकी हथेली में मंगल पर्वत उभरा हुआ हो उन्हे साहसी कार्य, अन्वेषण खोज, खिलाड़ी, पर्वतरोहण, खतरों से भरे कार्य, सैनिक, पुलिस, जंगल या वन जमीन से जुड़ा कारोबार, एवं खनन के क्षेत्र में जल्दी सफल हो सकते हैं।

जिनकी हथेली में बुध पर्वत (बुध पर्वत सबसे छोटी उंगली की जड़ में होता है) उभरा हुआ होता है उन्हे बोलने/सलाह देने से जुड़े व्यवसाय, मार्केटिंग, वकालत, बैंक, लेखन, पत्रकारिता, गणित, विज्ञान के कारोबार में कैरियर बना सकते हैं।

जिनकी हथेली में गुरु पर्वत ( गुरू पर्वत का स्थान हथेली पर तर्जनी उंगली के ठीक नीचे होता है) उभरा हुआ होता है, वे प्रबंधन, राजनीति, सरकारी क्षेत्र में बड़े अधिकारी, ज्योतिष, सेना या सामाजिक संगठनों में उच्च पद, अध्ययन-अध्यापन, सलाहकार, कर/आर्थिक विभाग, कानून एवं धर्म के क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

जिनकी हथेली में शुक्र पर्वत (शुक्र पर्वत अंगूठे के नीचे जीवन रेखा से घिरा हुआ होता है) उभरा हुआ होता है वो कला, संगीत, चित्रकारी या गंधर्व कलाएं, नाटक महिला विभाग, कम्प्यूटर, हस्तशिल्प, पयर्टन, फिल्म, टेलीविज़न, संगीत, कला, सजावट, रेडिमेड कपड़ों के कारोबार, लक्ज़री या ब्यूटी इंडस्ट्री में कैरियर बना सकते हैं।

जिनकी हथेली में शनि पर्वत (शनि पर्वत का स्थान मध्यमा उंगली के ठीक नीचे माना जाता है) अधिक उभरा होता है वो तंत्र/मन्त्र, जासूसी, रसायन, भौतिकी, मशीनरी, कृषि, पशुपालन, तेल, अनगढ़ कलाकृतियां , शोधकर्ता, वैज्ञानिक, पुरातत्ववेत्ता, ठेकेदारी और प्राचीनकलाओं से जुड़ी चीजों में भी कामयाब होते हैं।