आपके घर का ये सामान कहीं बिगाड़ न दे आपका भाग्य
भारतीय वास्तु शास्त्र में हर वस्तु पर किसी न किसी वस्तु का प्रभाव होता है। शब्द वास्तु वस्तु से ही उत्पन्न हुआ है और शब्द वस्तु शब्द वास से उत्पन्न हुआ है निश्चित समय पर निश्चित पिण्ड का होना। कुछ ऐसे नियम निर्धारित करता है जिससे सुखपूर्वक अपना जीवन यापन किया जा सकता है। वास्तु के नियम अनुसार कुछ ऐसी चीजें हैं जो आपके घर के वास्तु का संतुलन बिगाड़ सकती हैं उन्हें कभी भी घर के निश्चित स्थानों पर नहीं रखना चाहिए अन्यथा उन्हें रखने से अभाग्य प्रबल होता है। इस लेख के माध्यम से हम आपने पाठक को बताते हैं कैसे घर का ये सामान बिगाड़ता है किस्मत, रातों-रात भाग्य बदल सकते हैं ये उपाय

जंग लगी वस्तुओं पर राहू का वास होता है क्योंकि लोहे को शास्त्रों ने शनि की संज्ञा दी है जब कभी भी नमी के कारण अथवा पानी पड़ने के कारण शनि पर चन्द्रमा (पानी) हावि हो जाता है तभी राहू का जन्म होता है। शास्त्रों ने राहू को छदम ग्रह बताया है। राहू का जंग लगना कुण्डली में शनि को कमजोर करता है और चन्द्रमा का दूषित होना संबोधित करता है।

कालपुरूष सिद्धांत के अनुसार शनि को कर्म और लाभ क्षेत्र का स्वामी माना गया है। चन्द्रमा को प्रापर्टी और घर-परिवार का स्वामी माना गया है। जंग लगा सामान घर के निश्चित स्थान पर रखने से कर्म क्षेत्र कमजोर पड़ता है और लाभ क्षेत्र में कमी आती है तथा प्रापर्टी में हानि होती है और घर-परिवार में दुख और दरिद्रता निवास करती है।

* कभी भी उत्तर पूर्व दिशा में जंग लगा लोहे का सामान न रखें।

* घर की छत पर लोहे का सामान न रखें। पूर्वजों दवारा दिए गए किसी सामान में जंग लग जाए तो उसे मिट्टी के तेल (शनि) से साफ करें। हर सप्ताह शनिवार के दिन एक नींबू 4 टकड़ों में काट कर घर की चार दिशाओं में रखें। अगले सपताह दूसरा नींबू रखने से पहले इसे जल प्रवाह कर लें।

* नियमित जंग लगे सामान पर सरसों का तेल लगाते रहें।