अगर आपके पास कुंडली नहीं है और
जन्मकुंडली के अभाव में आपकी समस्या का हल
नहीं मिल रहा है तो रूद्रावतार भैंरों बाबा को याद करें।
किसी भी रविवार से शुरू करके “ओम कालभैरवाय
नम:” मंत्र की रोजाना पवित्र मन से कम से कम एक माला नियमित
रूप से करें। जल्द ही न केवल आपकी समस्या
को सुलझाने का मार्ग मिल जाएगा बल्कि प्रतिकूल ग्रह भी आपके
पक्ष में हो जाएंगे।