2016 में राश‌ि अनुसार करें उपाय, धन पाएं और दरिद्रता दूर भगाएं

download (12)
मनुष्य का जीवन ग्रहों से प्रभावित होता है। उसके सारे जीवन पर ग्रहों का शुभ-अशुभ प्रभाव रहता है। जब खुशहाल जीवन में ग्रहों की बाधाएं शामिल हो जाएं तो जीवन में आगे बढने के मौको पर विराम लगता जाता है। साल 2015 में आप अपनी मनचाही सफलता प्राप्त नहीं कर सके तो साल 2016 के आरंभ में राश‌ि अनुसार उपाय करके धन प्राप्ति के साधनो को अमंत्रित कर सकते हैं और हमेशा के लिए दरीद्रता को दूर कर सकते हैं।

मेष: सोमवार को भगवान श‌िव का पूजन करें। मंगलवार को रूद्र अवतार हनुमान जी का व्रत करें और शाम को 5 बजे के बाद बजरंगबाण का पाठ करें।

वृष: शन‌िवार की शाम पीपल की जड़ में दूध में शहद म‌िलाकर अर्पित करें। फिर आटे का दीप सरसों का तेल डालकर दिखाएं।

म‌िथुन: बुधवार को हरे रंग के कपड़े पहना करें और प्रतिदिन गणपति बप्पा का पूजन कर उन्हें दुर्वा अर्प‌ित करें।

कर्क: प्रत्येक माह आने वाले दोनों प्रदोष व्रतों का पालन करें। व्रत रखना संभव न हो तो हर रोज सुबह सूर्य भगवान को तांबे के बर्तन में जल डालकर अर्पित करें।

स‌िंह: 2016 में आप पर शनि की ढैय्या चल रही है। शन‌िवार को रोटी पर सरसो का तेल लगाकर काले कुत्ते को ख‌िलाएं। रव‌िवार को व्रत रखें और आद‌ित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें।

कन्या: बुधवार को गणपति बप्पा का पूजन करें और बृहस्पतिवार को पीले चंदन का त‌‌िलक मस्तक और गले पर लगाएं।

तुला: सुबह घर से न‌िकलने से पहले कुछ मीठा खाकर जाएं। संध्या समय घर के मुख्यद्वार पर दीपक जलाएं। शुक्रवार को सफेद कपड़े पहना करें। साढ़ेसाती समाप्त होने वाली है अंतिम चरण पर है शनिवार को शन‌ि स्तोत्र का पाठ करें।

वृश्च‌िक: प्रतिद‌िन सुंदरकांड का पाठ करें। मंगलवार को हनुमान जी को स‌िंदूर अर्पित कर उनके चरणों का सिंदूर मस्तक पर लगाएं।

धनु: शन‌िवार को पीपल पर जल चढ़ाएं। बृहस्पतिवार को पीला चंदन मस्तक पर लगाएं। घोड़े को चने ख‌िलाएं।

मकर: शन‌िवार को चीट‌ियों को चीनी और आटा खिलाएं। शन‌ि देव पर सरसो का तेल चढ़ाएं और दीपक द‌िखाएं।

कुंभ: गुरूवार को केले के पेड़ और शनिवार को शन‌ि देव की पूजा करनी चाह‌िए।

मीन: बृहस्पतिवार को केसर अथवा हल्दी का त‌िलक लगाएं। प्रतिदिन विष्‍णु भगवान का पूजन करें।

Thanks