मित्र्रों आज एक सलाह देने की इच्छा हुई तो ये पोस्ट कर रहा हूँ | आप जब की कोई उपाय करे उसे किसी के सामने बखान न करे | अक्सर देखा जाता है की लोग हर किसी को कहते रहते है की मुझे उस ज्योतिषी ने ये उपाय बाताया था इस से मुझे ये फायदा हुआ या नही हुआ | उपाय हमेशा छुपाकर ही करने चाहिए यदि आप उनका पूर्ण लाभ लेना चाहते है क्योंकि जैसे आप जमीन मे बिज बोते है और उसको बार बार यदि बाहर निकालेंगे तो वो कभी भी उग नही सकता इसी प्रकार आपको लाभ नही मिल सकता |
दूसरी बात मेरी ज्योतिषीय मित्रों के लिय | मैंने अक्सर देखा है की कुछ मित्र लाल किताब की बुराई करते रहते है लेकिन मेरा ये मानना है की जिस विषय की आपको पूरी जानकारी न हो उसकी बुराई नही करनी चाहिए | अक्सर मित्र किसी की भी लिखी हुई लाल किताब नाम से किताब बाज़ार से ले आते और मैंने देखा है की उन किताबों में वैदिक भी मिक्स की हुई होती है | अब वो मित्र कहते है की हमने लाल किताब पढ़ी है उसके फलकथन लागू ही नही होते तो मेरा उनसे यही कहना है की लाल किताब पहले तो लाल किताब में कुंडली के आधार पर अध्यन किया जाता है उसके बाद ये देखा जाता है की आपकी हस्तरेखा और आपके चहरे की बनावट भी देखि जाती है की कुंडली के ग्रह आपको कुंडली के अनुसार फल दे रहे है या नही |
उसके बाद आपके घर के वास्तु की बारी आती है जैसे मान लिजिय की कुंडली में सूर्य आपका उंच है और शुभ फल देने की सिथ्ती में है ऐसे में यदि आपके घर में आंगन नही है या सूर्य की रौशनी ही घर में नही आती या फिर घर की पूर्वी दिवार के पास टॉयलेट बनाकर आपने राहू को वाहा स्थापित किया हुआ तो सूर्य देव चाहकर भी आपको शुभ फल नही दे पाते | इसी तरह से सभी ग्रहों का फल देखा जाता है |
इसके बाद बारी आती है जातक की आदतों की जैसे सूर्य को ही ले यदि जातक का सूर्य अच्छा. फल देने वाला है लेकिन जातक शराब मॉस का सेवन करता है दूसरों से चोरी ठगी करता है तो जातक अपने सूर्य को खराब क्र लेता है और सूर्य अपना शुभ फल नही दे पाता | ऐसे में लाल किताब की कम जानकारी रखने वाले इसे गलत सिद्ध करने लग जाते है |
अब बात बाकी सभी मित्रों के लिय आज के विज्ञापन के युग में लाल किताब के बारे में इतनी भ्रान्तिया पैसे की लालची लोगों ने फैला दी है की आम इंसान सोचता है की वो जल्दी से लाल किताब बनवा ले उसकी जिन्दगी बदल जायेगी | जबकि ऐसा कुछ नही होता | कोई भी आपके भविष्य को बदल नही सकता | लाल किताब में साफ़ लिखा हुआ है की खुदा से मिली हुई चंद हस्तियाँ ही रेखा में मेखा लगा सकती है लेकिन अंतिम परिणाम तो वो भी नही बदल सकती | आप ये मान लिजिय की यदि बारिश हो रही है तो लाल किताब आपको बारिश से बचने केलिय उपाय के रूप में छाता छाता दे सकती है न की बारिश को होने से रोक सकती है | आप यदि तो भली भाँती जानते है की जब बारिश के साथ तूफ़ान भी हो तो वो छाता भी काम नही आता ऐसे में उपाय भी उसी तरह से सही और मजबूत करने होते है ताकि कुछ तो राहत मिले | बाधा रूपी दिवार को आपको खुद ही पार करना होगा उपाय आपको केवल पड़ी बनकर सहारा दे सकते है |