घर में कमाई तो है लेकिन पैसा टिकता नहीं।

images (60)

कई बार व्यक्ति द्वारा कठिन परिश्रम करने के बाद भी उसे काम से जो लाभ मिलना होता है वह नहीं मिल पाता। ऐसे में वह निराश हो जाता है। और उसकी जिंदगी में गरीबी अपने पैर पसारने लगती है। अच्छा, सुखी और सभी सुविधाओं से भरा जीवन जीने के लिए हर व्यक्ति के पास पैसा होना अत्यंत जरूरी है। पैसों के अभाव में जीना दूभर हो जाता है।

घर में पैसों की किल्लत और बरकत हमारे हाथों में ही रहती है। हमारे द्वारा स्वयं के घर में की कई आदतें ही हमें गरीबी के मुंह में ढकेल देती हैं और कई कार्य घर में आई लक्ष्मी में बरकत कर देते हैं।

ऐसा करने से रूठ जाती है लक्ष्मी :- 

  1. सूर्योदय के बाद सोता है या सूर्यास्त के समय सोता है उससे भी लक्ष्मी रूठ जाती है।
    2. जिनमें घर में गंदगी रखना
    3. ऊंची आवाज में बात करना,
    4. प्रतिष्ठान क्षेत्र को गंदा करना जैसे कार्य भी शामिल है।

ऐसा करने से बरकत आती है घर में :-
1. जिस घर में नमक, साबुत धनियां, हल्दी की गांठे और कमल गट्टों को भले ही कम मात्रा में ही सही लेकिन कुछ मात्रा में संजोकर रखा जाए तो उस घर में बरकत होती है। वहां शांति बनी रहती है।
2.वहीं घर में देवी-देवताओं को अर्पित किए गए फूल या हार के सूखने के बाद उन्हें घर में रखना अलाभकारी होता है
3.जूठे हाथों से गौ, ब्राह्मण तथा अग्नि का स्पर्श करने से लक्ष्मी रूठती है
4. भोजन करते समय अपना मुंह पूर्व या उत्तर की ओर मुंह करके करें। हो सके तो रसोई घर में ही बैठकर भोजन करें इससे राहु शांत होता है।
5.काले कुत्ते को शनिवार सरसों के तेल से रोटी चुपड़ कर खिलाएं।

ईश्वर सर्वशक्तिमान है। ग्रह-नक्षत्र और देवी-देवता सभी उसके अधीन है। ईश्वर के बाद ईश्वर की प्रकृति महत्वपूर्ण है। जिस प्रकार प्रकृति ने रोग, शोक या अन्य घटना, दुर्घटना को प्रदान किया उसी प्रकार उसने उक्त सभी से बचने के उपाय भी दिए हैं।

प्रकृति में ही है वह उपाय जिससे आप अपनी सकारात्मक ऊर्जा का विकास कर अपने भाग्य को जागृत कर सकते हैं। भाग्य में समय और स्थान का भी बहुत महत्व होता है। गलत स्थान पर रहने से या जाने से भी भाग्य बंद हो जाता है। भाग्य में कर्म का भी योगदान होता है। गलत कर्म करने से भी भाग्य बंद हो जाता है। लेकिन हम आपको बता रहे हैं भाग्य को जाग्रत करने के आसान लेकिन अचूक उपाय।

घर हो वास्तु अनुसार।
2. घर का द्वार उत्तर, पश्चिम या पूर्व दिशा में हो।
3. घर सदा साफ-सुधरा रखें।
4. घर के भीतर अनावश्यक वस्तुएं नहीं रखें।
5. घर में ढेर सारे देवी और देवताओं के चित्र या मूर्तियां न रखें।
6. घर का ईशान कोण हमेशा खाली रखें या उसे जल का स्थान बनाएं।
7. दरवाजे के ऊपर भगवान गणेश का चित्र और दाएं-बाएं स्वस्तिक के साथ लाभ-शुभ लिखा हो।
8. सुबह और शामघर में मधुर सुगंध और संगीत से वातावरण को अच्छा बनाएं।
9.रात्रि में सोने से पहले घी में तर किया हुआ कपूर जला दें।
10. घर के आसपास नकारात्मक ऊर्जा वाले पौधे, वृक्ष हैं, तो उनसे सावधान रहें।
11.घर में हवा के रास्ते ऐसे हो कि घर में हवा घुसते ही मध्यम बहे।
12.तीन दरवाजे एक सीध में न हो। हवा एक और से घुसे और दूसरी ओर ने निकलने वाले रास्ते न हो।

इन सभी बातों को ध्यान रखे और जिंदगी का आनंद ले <<<<<<<<<<<<<<<<<<<<