06-1438836535-epf-pass

कर्मचारी भविष्‍य निधि (ईपीएफ) खाता धारक, ई-पासबुक के माध्‍यम से ऑनलाइन बैलेंस और पुराने लेन-देन को चेक कर सकते हैं। अगर धारक को आवश्‍यकता पड़े तो वह ई-पासबुक को कई बार डाउनलोड कर सकता है।

इस सेवा को प्राप्‍त करने के लिए आपको ईपीएफओ की साइट पर अपना पंजीकरण करना होगा। पंजीकरण करने के लिए आपको पीएफ नम्‍बर, इस्‍टेबलिशमेंट कोड और वेतन पर्ची में दिए गए नाम की आवश्‍यकता होगी, इन्‍हे डालकर ई-पासबुक को जेनरेट किया जा सकता है।
ईपीएफओ की साइट पर कैसे जेनरेट करें पासबुक?

कोई भी पीएफ सदस्‍य, अपने पहचान पत्र यानि पैन कार्ड, आधार कार्ड, एनपीआर, ड्राईविंग लाईसेंस, पासपोर्ट, राशनकार्ड या वोटरआईडी कार्ड; जिसमें फोटो लगी हुई हो और मोबाइल नम्‍बर की सहायता से ई-पासबुक को जेनरेट कर सकता है। इसकी प्रक्रिया निम्‍नलिखित है:

ईपीएफओ पर जाएं।

मोबाइल नम्‍बर, जन्‍मतिथि व अन्‍य दस्‍तावेज़ों का विवरण दें।

बॉक्‍स में ऊपर दिए जाने वाले कोडनुमा शब्‍दों को टाइप कर दें।

पिन प्राप्‍त करें, पर क्लिक करें।

पिन आपके द्वारा दिए गए मोबाइल पर एसएमएस के रूप में आ जाएगा। इस पिन को आप, साइट पर दिए गए स्‍थान पर भर दें।

डाउनलोड पासबुक को किस प्रकार जेनरेट करें?

लॉग इन करने के बाद, मुख्‍य पृष्‍ठ पर जाएं और मेन्‍यू से ई-पासबुक को सेलेक्‍ट कर लें।.

स्टेबलिश कोड का चयन करें।

 अपना पीएफ नम्बर डालें।

 वेतन रसीद पर लिखा हुआ नाम भरें। बॉक् में टेक्स् को टाइप करें।

 पिन प्राप् करें, पर क्लिक करें। एक बार जब आप पिन प्राप् कर लें, तो हर बार उसे ही ऑथराईजेशन बॉक् में भरें। वि

वरण प्राप् करें, पर क्लिक करके आप सारी जानकारी प्राप् कर सकते हैं। समयसमय पर इस साइट पर पिन डालकर जानकारी लेते रहें।

अगर किसी कारणवश पोर्टल पर आपकी पासबुक अपलोड नहीं हुई है और बाद में अपलोड हो जाती है तो आपको मोबाइल पर एसएमएस के जरिए सूचित कर दिया जाएगा। पासबुक में आपके लेन-देन सम्‍बंधी सभी सूचनाएं होगी, जिस महीने से आपने ऑनलाइन जेनरेट किया होगा।
Pls Comment this post…..